दर्शकों के दिल की धड़कन को बढ़ा दिया है फिल्म “धड़क” ने : जानिए रिव्यु

स्वर्गीय अभिनेत्री श्रीदेवी की बेटी जाह्नवी कपूर और शाहिद कपूर के भाई ईशान खट्टर की फिल्म “धड़क” आज रिलीज़ हो गई है. फिल्म के प्रोमो और गाने पहले से ही हिट हो चुके है. दर्शकों को बेसब्री से इस फिल्म का इंतज़ार था और आज यह इंतज़ार खत्म हो गया. फिल्म धड़क धर्मा प्रोडक्शन मे बनी है और इसका निर्देशन शशांक खेतान ने किया है. यह फिल्म मराठी फिल्म “सैराट” का हिंदी रीमेक है.

कहानी :

धड़क फिल्म की कहानी राजस्थान के उदयपुर शहर की है. वहां पर रहने वाले रतन सिंह (आशुतोष राणा) बहुत कठोर आदमी है और चुनाव लड़ने की तैयारी मे लगे हुए है. उनकी बेटी पार्थवी (जाह्नवी कपूर) को परिवार के कायदे कानून बिलकुल भी पसंद नहीं है. पार्थवी को अपनी आजदी मे किसी का भी रोक टोक पसंद नहीं है. वहीं दूसरी ओर रेस्टोरेंट मे काम करने वाले परिवार का लड़का मधुकर (ईशान खट्टर) पहली नज़र मे पार्थवी से प्यार कर बैठता है. दोनों की कई मुलाकातें होती है और प्यार गहरा होता चला जाता है. जब रतन सिंह को इस बात का पता लगता है तो मधुकर के परिवार को बड़ा कष्ट देता है. जिसके चलते पार्थवी और मधुकर उदयपुर से भाग जाते है. आगे क्या होता है ये जानने के लिए आपको सिनेमा घर मे जाना पड़ेगा.

मजबूत कड़ी :

फिल्म मे ईशान और जाह्नवी की केमिस्ट्री बहुत अच्छी लग रही है. फिल्म के गाने बहुत ही मस्त है. इस फिल्म का डायरेक्शन बहुत अच्छा है. फिल्म मे ईशान के दोस्तों का किरदार अंकित वशिष्ट और श्रीधरन बहुत ही लाजवाब है. आशुतोष राणा भी अपने किरदार के साथ जस्टिस करते नज़र आए है. जाह्नवी ने अपनी पहली फिल्म से ही यह साबित कर दिया कि वह काफी आगे तक जाएंगी. जाह्नवी कई कई सीन मे आपको श्रीदेवी की याद दिला देंगी.

कमजोर कड़ी :

फिल्म की सबसे बड़ी कमी है इसका इंटरवल से पहले का हिस्सा जो कि, काफी लम्बा खीचा गया है. ईशान और जाह्नवी के सीन को भी काफी लम्बा किया गया है. कई जगहों पर जाह्नवी ईशान से उम्र मे बड़ी नज़र आती है. इमोशनल सीन भी कई जगह पर अच्छे तरीके से पेश नहीं किये गए है. फिल्म मे कुछ ख़ास नया पन आपको नहीं नज़र आएगा.

इस फिल्म को आप सिर्फ इशान खट्टर और जाह्नवी कपूर के लिए भी देख सकते है. हम इस फिल्म को 5 मे से 3 का स्कोर देंगे.

Credit : Youtube

Leave a Comment